ABP न्यूज़ एंकर ने तीन तलाक को लेकर ओवैसी को दिया करारा जवाब – दि फिअरलेस इंडियन
Home / समाचार / ABP न्यूज़ एंकर ने तीन तलाक को लेकर ओवैसी को दिया करारा जवाब

ABP न्यूज़ एंकर ने तीन तलाक को लेकर ओवैसी को दिया करारा जवाब

  • hindiadmin
  • August 24, 2017
Follow us on

सार्वजनिक मंच पर, खासतौर से राष्‍ट्रीय टेलीविजन पर कई बार वह बात कहना मुश्किल होता है जो आप सोशल मीडिया में आसानी से कह सकते हैं. एबीपी न्‍यूज की एंकर चित्रा त्रिपाठी ने फेसबुक का सहारा लेकर एआईएमआईएम नेता असदुद्दीन ओवैसी को जवाब दिया है. ओवैसी ने २२ अगस्‍त की शाम को एबीपी न्‍यूज पर ‘तीन तलाक पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले’ पर हुई बहस के दौरान चित्रा से राष्‍ट्रीय टीवी पर पूछा था, “आप वजीर-ए-आजम से पूछिए कि उनकी बीवी उनके घर में क्‍यों नहीं रह रही है? उस औरत के हक का क्‍या होगा? अब आप देखिए कि आपके चेहरे का रंग किस तरह बदल जाता है. पूछते क्‍यों नहीं हैं आप?” यानी ट्रिपल तलाक के बहाने नरेंद्र मोदी पर जो निशाना साधा गया, चित्रा को वह पसंद नहीं आया. उन्‍होंने उस रात घर पहुंचकर फेसबुक लाइव किया और टाइटल दिया, ‘तीन तलाक के खात्मे पर मोदी विरोध क्यूं?’

करीब साढ़े सात मिनट के वीडियो में चित्रा अपना पक्ष रखते हुए कहती हैं, ”तीन तलाक को लेकर मोदी विरोध शुरू हो गया है. अब ये बात समझ से परे है कि इसमें मोदीजी कहां से आ गए. मोदीजी ने १५ अगस्‍त को लालकिले से महिलाओं के हक की आवाज उठाई थी. आज मेरी असदुद्दीन ओवैसी साहब से लाइव बातचीत चल रही थी. उनका ये कहना है कि सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले से मुसलमानों पर खतरा मंडरा रहा है. बहुत ज्‍यादा हैरानी होती है कि हमारा मुस्लिम बुद्धिजीवी वर्ग कुतर्क के जरिए अपनी बातों को सही ठहराने की कोशिश करते हैं. तीन तलाक, हलाला जैसी कुरीतियां चाहे वह मुस्लिम धर्म में रही हों या हिंदू धर्म में, उनका विरोध हो रहा है. सती प्रथा खत्‍म हो गई, बाल विवाह का विरोध होता है. आज के समाज में इन चीजों की इजाजत दी जा सकती है?”

एंकर ने आगे कहा, ”सुप्रीम कोर्ट ने इसे असंवैधानिक माना है. फैसले का देशभर में स्‍वागत हो रहा है मगर कुछ ऐसे लोग हैं जिन्‍होंने मोदी का विरोध शुरू कर दिया है. कह रहे हैं कि अरे… अरे… हिंदुत्‍व सरकार है, हिंदुओं की बात करते हैं प्रधानमंत्री इसलिए मुस्लिमों पर अत्‍याचार का शिगूफा छोड़ दिया गया है. ऐसी सोच पर तरस आता है.”

“आज सुप्रीम कोर्ट का जो फैसला है, बड़े-बड़े मुस्लिम राजनेता हैं, उनके चेहरे पर आज हंसी-खुशी नहीं दिख रही थी. ऐसे लोगों की मैं कड़े शब्‍दों में निंदा करती हूं. ऐसे लोग घोर महिला-विरोधी हैं. मुस्लिम महिलाओं से मेरी अपील है कि ये ऐतिहासिक मौका है, इसे यूं ही मत जाने दीजिए. इस फैसले का स्‍वागत करिए.”

Comments

You may also like

ABP न्यूज़ एंकर ने तीन तलाक को लेकर ओवैसी को दिया करारा जवाब
Loading...