बीजेपी के मिशन बंगाल से चिढ़ी ममता बनर्जी – दि फिअरलेस इंडियन
Home / विचार / बीजेपी के मिशन बंगाल से चिढ़ी ममता बनर्जी

बीजेपी के मिशन बंगाल से चिढ़ी ममता बनर्जी

  • Amit Pradhan
  • April 27, 2017
Follow us on

२०१४ के आम चुनावो में जीत के बाद भारतीय जनता पार्टी, नित नए कीर्तिमान स्थापित करती जा रही है, आज देश के २९ राज्यों में से १४ राज्यों में भारतीय जनता पार्टी की सरकार है और ४ राज्यों में सहयोगियों के साथ सरकार बना रखी है। अगले कदम की ओर बढ़ते हुए भारतीय जनता पार्टी उन राज्यों में अपना आधार स्थापित करने की कोशिश कर रही है जिन राज्यों में बीजेपी की कोई पकड़ नहीं है, इसी कदम के मद्देनज़र बीजेपी के राष्ट्रिय अध्यक्ष श्री अमित शाह अभी बंगाल के दौरे पर है।

श्री अमित शाह के बंगाल दौरे के कारण वहां की मुख्यमंत्री सुश्री ममता बनर्जी को बुरा लग्न लाजिमी था, और दोनों के बीच जबाबी जंग का इंतज़ार सभी को था। श्री अमित शाह ने अपने दौरे की शुरुआत ममता बनर्जी के विधान सभा क्षेत्र से की, श्री अमित शाह का ये दौरा इसलिए भी महत्वपूर्ण हो जाता है क्योंकि बंगाल में अभी तक बीजेपी सत्ता में नहीं आ पाई है, हालांकि अब समीकरण बदलने लगे है और लेफ्ट दल हाशिये पर खिसकते जा रहे है, कांग्रेस भी वहाँ अपनी खोई जमीन तलाश रही है इन बातो को ध्यान में रख कर ही श्री अमित शाह का दौरा निर्धारित किया गया है, आज देश के माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी सबसे चर्चित व्यक्तित्व बन कर उभरे है है और भाजपा ने उनके नेतृत्व में कई चुनावो में विजय प्राप्त की है।

भारतीय जनता पार्टी केवल २०२१ के चुनावो को ध्यान में रख कर ये कार्य नहीं कर रही है, अपितु उनकी नज़र में २०१९ का लोकसभा चुनाव भी है, २०१४ लोकसभा चुनावो में जो करिश्मा भाजपा ने कर दिखाया था उसे दोहराना उनके लिए जरुरी है और ये तभी संभव है जब भाजपा उन राज्यों में भी अपनी उपस्थिति दर्ज़ करा सके जहा पर आज तक उसका कोई वजूद ना रहा हो।

सुश्री ममता बनर्जी शुरू से ही मोदीजी की धुर विरोधी रही है और उनके कामो की आलोचना करना उनके लिए उनका नैतिक अधिकार है, नोटबंदी के बाद तो सुश्री बनर्जी ने दिल्ली तक आ कर प्रधानमंत्री के खिलाफ हल्ला बोलै था, जिसमे उनको दिल्ली के मुख्यमंत्री श्री अरविन्द केजरीवाल का भी साथ मिला था, हाँ जनता से जनसमर्थन न मिलने के कारण उन्हें अपने आंदोलन को वापस लेना पड़ा था और उसके बाद उन्हें वापस अपने गढ़ में जाना पड़ा था। अब श्री अमित शाह जी के पश्चिम बंगाल दौरे ने उनके लिए जले पर नमक का काम किया और उन्होंने भी श्री शाह को जबाब देने में देरी ना की।

श्री शाह ने कहा था ” टीएमसी नरेंद्र मोदी के रथ को नहीं रोक पाएगी। वे रोकने का जितना प्रयास करेंगे, उतना ही कमल और खिलेगा। बीजेपी अध्यक्ष ने दावा किया था कि 2019 के लोकसभा चुनाव में पश्चिम बंगाल में बीजेपी को सबसे ज्यादा सीटें मिलेंगी।” आज इस बात के जबाब में ममता बनर्जी ने आज कहा “वह उन्हें चुनौती देने वालों की चुनौतियों को स्वीकार करती हैं। उन्होंने कहा कि हम दिल्ली पर कब्जा करेंगे।” राजनीतिक चुनौतिया ममता जी हमेशा स्वीकार करती आई है लेकिन इस बार समीकरण उनके लिए थोड़े कठिन ही दिख रहे है, नित नए घोटालो का आरोप, नारदा हो या शारदा उनके नेताओ पर लगता ही रहता है, ऐसे में देखना दिलचस्प होगा की दीदी और शाह की लड़ाई किस हद तक जाती है और क्या क्या नए रंग दिखाती है।

Comments

You may also like

बीजेपी के मिशन बंगाल से चिढ़ी ममता बनर्जी
Loading...