क्यों नहीं कहते कि हिंदू होने की वजह से मारे गए अमरनाथ यात्री- चेतन भगत – दि फिअरलेस इंडियन
Home / मनोरंजन / क्यों नहीं कहते कि हिंदू होने की वजह से मारे गए अमरनाथ यात्री- चेतन भगत

क्यों नहीं कहते कि हिंदू होने की वजह से मारे गए अमरनाथ यात्री- चेतन भगत

  • hindiadmin
  • July 11, 2017
Follow us on

कश्मीर के अनंतनाग में अमरनाथ यात्रियों पर आतंकी हमला हो गया. जिसमें ८ लोग मारे गए हैं तथा साथ ही कई लोगों के घायल होने की खबर है. इस आतंकी हमले पर कई लोगों ने गुस्सा जताया है. कई और बड़ी हस्तियों ने इस हमले पर दुःख जाहिर किया है. लेकिन लेखक चेतन भगत के ट्वीट पर विवाद शुरू हो गया है. चेतन भगत ने अमरनाथ जा रहे यात्रियों पर हुए आतंकी हमले को ट्रेन में हुई जुनैद की हत्या से जोड़ते हुए ट्विटर पर लिखा, ‘जब जुनैद की मौत हुई थी तब मीडिया ने कहा था कि वो मुस्लिम होने के कारण मारा गया. तो क्या अमरनाथ यात्री हिंदू होने के कारण नहीं मारे गए?’

चेतन भगत के इस विवादित ट्वीट पर बवाल शुरु हो गया है. लोगों में हिंदू-मुस्लिम को लेकर बहस शुरु हो गई. कहा जा रहा है कि चेतन इसे सांप्रदायिक रंग देने की कोशिश कर रहे हैं. वहीं कुछ लोग कह रहे हैं कि जुनैद का मामला मॉब लिंचिंग था लेकिन ये एक आतंकी हमला है. उनके ट्वीट पर कुछ रिप्लाई ऐसे भी आए हैं, जिनमें चेतन से अपील की गई है कि वो मामले को हिंदू-मुस्लिम की बहस से दूर रखें. तो कुछ ने तो उनका समर्थन भी किया.

इस ट्वीट पर ऐसे रिएक्शन्स आने के बाद चेतन ने कुछ देर बाद ट्वीट किया कि लोग उन्हें लेबल करना बंद करें. वो बस निरंतरता की बात कर रहे हैं. लेबल करने का मतलब है कि आप तर्क नहीं कर सकते.

इसके बाद भी ये बहस थम नहीं रही है. फिल्मों में एक्टिंग कर चुके कमाल राशिद खान (केआरके) ने चेतन भगत के ट्वीट का जवाब देते हुए कहा, ‘नक्सली और खलिस्तान की चाहत रखने वाले लोग भी हिन्दुओं को मारते हैं तो आप उनकी तुलना अमरनाथ यात्रियों से क्यों नहीं कर रहे हैं?’

केआरके ने आगे लिखा, ‘इससे पता चलता है कि आप मुस्लिमों से नफरत करते हैं और सभी मुस्लिमों को मरवाना चाहते हैं.’

Comments

You may also like

क्यों नहीं कहते कि हिंदू होने की वजह से मारे गए अमरनाथ यात्री- चेतन भगत
Loading...