DRDO ने बनाया देश का पहला मानव रहित टैंक, जो बढ़ाएगा भारतीय सेना की ताकत – दि फिअरलेस इंडियन
Home / समाचार / DRDO ने बनाया देश का पहला मानव रहित टैंक, जो बढ़ाएगा भारतीय सेना की ताकत

DRDO ने बनाया देश का पहला मानव रहित टैंक, जो बढ़ाएगा भारतीय सेना की ताकत

  • hindiadmin
  • July 29, 2017
Follow us on

डिफेंस रिसर्च एंड डेवलपमेंट ऑर्गनाइजेशन(डीआरडीओ) ने ऐसा मानव रहित, रिमोट संचालित टैंक विकसित किया है, जो मैदान में जाके दुश्मनों को ढूंढेगा और उन्हें खत्म भी कर देगा. वो भी बिना किसी परेशानी के. खासकर नक्सल प्रभावित इलाकों में तो यह टैंक दुश्मनों के लिए काल बनकर टूटेगा. इस टैंक को डीआरडीओ ने ‘MUNTRA’ नाम दिया है. अगर MUNTRA को बम से उड़ाया भी जाएगा, तो भी अपने किसी सैनिक को कोई नुकसान नहीं पहुंचेगा, क्योंकि यह टैंक बेहद खास ‘मानवरहित टैंक’ है. इसके तीन वर्जन हैं, जो न सिर्फ दुश्मनों को १५ किमी की दूरी से पकड़ लेगा, बल्कि लेजर गाइडेड हमले कर उन्हें नष्ट भी कर देगा.

इनमें से पहला है मानवरहित MUNTRA-S, जो हमलावर टैंक है. दूसरा है MUNTRA-M, जो किसी भी इलाके में सुरक्षाबलों के बढ़ने के समय लैंड माइन या किसी भी तरह के बम को पकड़ने में सक्षम है. ये नक्सलाइट इलाकों में बेहद कारगर हो सकता है, साथ ही किसी भी जगह हमले की सूरत में अग्रिम पंक्ति में रहकर दुश्मनों के हर हमले की सूचना देता रहेगा. इसके अलावा तीसरा MUNTRA-N, जो परमाणु हमले या केमिकल अटैक की सूरत में भी दुश्मन का काम तमाम कर देगा.

इन टैंकों का परीक्षण राजस्थान के रेगिस्तानी इलाकों के तेज तापमान में किया गया है. परीक्षण के दौरान सेना ने इस टैंक को सफलापूर्वक संचालित किया. इसमें निगरानी रडार, कैमरा, लेजर रेंज का पता लगाने वाली डिवाइस है. इससे जमीन पर १५ किलोमीटर की दूरी तक भारी वाहनों का पता लगाया जा सकता है.

इस टैंक को कॉम्बैट वीइकल्स रिसर्च ऐंड डिवेलपमेंट इस्टैबलिशमेंट (CVRDE) इसे बनाया है और सेना के लिए इसका परीक्षण किया है लेकिन पैरामिलिटरी फोर्स ने इस टैंक को नक्सल प्रभावित इलाकों में इस्तेमाल करने की रुचि जाहिर की है. हालांकि, उन्होंने इसमें कुछ बदलावों की बात भी कही है.

Comments

You may also like

DRDO ने बनाया देश का पहला मानव रहित टैंक, जो बढ़ाएगा भारतीय सेना की ताकत
Loading...