अस्पताल के प्रसूति कक्ष में नवजातों की मौत के कारण डॉक्टर ने कराया हवन…! – दि फिअरलेस इंडियन
Home / समाचार / अस्पताल के प्रसूति कक्ष में नवजातों की मौत के कारण डॉक्टर ने कराया हवन…!

अस्पताल के प्रसूति कक्ष में नवजातों की मौत के कारण डॉक्टर ने कराया हवन…!

  • Shyam kadav
  • July 26, 2017
Follow us on

भारत में संतान लाभ के लिए कई बार मन्नते मांगी जाती है. हर कोई मंदिर में भगवन के पास कुछ ना कुछ मांगने जाता है. भगवान को माननेवाले कईसारे लोग भारत में रहते लेकिन कई बुद्धिजीवी इन्हें अंधविश्वास मानते है. लेकिन अकसर देखा जाए तो सबसे अधिक पढ़े डॉक्टर भी भगवान पे भरोसा रखता है जिसके चलते हर किसी अस्पताल में हमें भगवान की मूर्ति दिखाई देती है. ऐसेही तेलंगाना की राजधानी हैदराबाद के एक सरकारी अस्पताल के प्रसूति वार्ड में सोमवार को हवन कराया गया है. दरअसल इस हवन का आयोजन वरिष्ठ डॉक्टर और कर्मचारियों ने मिलकर कराया था.

हवन करने के की वजह जब डॉक्टरों को पूछी गई तब इस हवन के बारेमे अस्पताल प्रशासन ने कहा कि पिछले कुछ समय से इस सरकारी अस्पताल के प्रसूति वार्ड में लगातार मौतें हो रहीं थीं. गर्भवति महिलाओं और नवजातों के कल्याण के लिए हवन कराया गया. १५० साल पहले शुरू किए इस गांधी अस्पताल को तीन वार्ड के साथ शुरू किया गया था. आज यह १८०० बिस्तरों वाला अस्पताल है. यहां मेडिकल कॉलेज भी है. आंध्र प्रदेश का यह पहला ऐसा अस्पताल है, जहां ओपन हार्ट सर्जरी हुई थी. लेकिन अब यहाँ नवजातों की मौत होती है.

आंध्रप्रदेश के इस गांधी अस्पताल में दो-तीन महीने पहले तक यहां के प्रसूति विभाग में रोजाना २५-३० डिलिवरी कराई जाती थी, अब यह संख्या करीब दोगुनी हो गई है. डिलिवरी के लिए यहां आने वालों की संख्या में बढ़ोत्तरी के पीछे तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) की ‘केसीआर किट्स योजना है. इस योजना के तहत सरकारी अस्पतालों में डिलिवरी करवाने पर मां और नवजात को नकदी के साथ कई तरह तरह के जरूरी सामान दिए जाते हैं. ऐसी ही योजना तमिलनाडु में मुख्यमंत्री रहते हुए जयललिता लेकर आई थीं.

इस अस्पताल में कई नवजातों की मौतों के कारण अस्पताल के उप अधीक्षक एन नरसिम्हा राव ने कहा, ‘हमारे यहां ज्यादातर गंभीर मामले सामने आते हैं, हम उन्हें डिलिवरी के लिए मना नहीं कर सकते, इसी वजह से मौतें हो रही हैं. इसी के कारण अस्पताल की शांति के कारण प्रसूति वार्ड में करीब चार घंटे तक महामृत्युंजय हवन कराया गया. हवन में शामिल होने वाले डॉक्टर ने कहा कि हवन से मां और नवजात को दैवीय आशीर्वाद प्राप्त होगा.

Comments

You may also like

अस्पताल के प्रसूति कक्ष में नवजातों की मौत के कारण डॉक्टर ने कराया हवन…!
Loading...