सुनहरा मौका: ‘मॉल न जाने वाली लड़कियां मिलें राबड़ी देवी से’ – दि फिअरलेस इंडियन
Home / ट्रोल / सुनहरा मौका: ‘मॉल न जाने वाली लड़कियां मिलें राबड़ी देवी से’

सुनहरा मौका: ‘मॉल न जाने वाली लड़कियां मिलें राबड़ी देवी से’

  • hindiadmin
  • June 12, 2017
Follow us on

बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी ने अपने बेटों के लिए संस्कारी बहु की बात की थी. लालू प्रसाद यादव की पत्नी राबड़ी देवी के मुताबिक, ”सिनेमा हॉल और मॉल जाने वाली लड़की नहीं चाहिए. घर चलाने वाली, बड़े बुजुर्ग का आदर करने वाली, जैसे कि हम हैं. वैसी लड़की चाहिए.” कुछ मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, राबड़ी देवी अपने बेटों तेजस्वी और तेजप्रताप यादव की शादी के लिए ये अरमान बयां कर रही थीं. मौका था लालू यादव की ७०वीं सालगिरह का जश्न.

तेजस्वी ने ट्वीट कर कहा, ”संस्कारी बहू का मतलब व्यापक संदर्भ से है. मीडिया अनावश्यक रूप से इसे लेकर अपना मतलब थोप रहा है. असली मुद्दों पर बात करने की ज़रूरत है.”

उनके इसी बात को लेकर सोशल मीडिया पर भी चर्चा खूब गर्म है.

तेजस्वी बिहार के डिप्टी सीएम और तेजप्रताप यादव स्वास्थ्य मंत्री हैं. ज़ाहिर है कि राबड़ी के इस बयान पर लोगों की प्रतिक्रियाएं आनी ही हैं. ‘एक भारतीय’ ट्विटर पर लिखते हैं, ”राबड़ी देवी को मॉल जाने वाली बहू नहीं, उनको खुद जैसी बहू चाहिए.” मंजुनाथ भट ने लिखा, ”राबड़ी देवी के इस बयान के बाद जो लड़कियां मॉल नहीं जाती होंगी, वो भी जाना शुरू कर देंगी”

तृष्णा वोहरा लिखती हैं, ”इत्तेफाक ये है कि लालू का परिवार इस वक्त मॉल को सप्लाई करने को लेकर मिट्टी घोटाले का सामना कर रहा है.” राबड़ी देवी का ये बयान ऐसे वक्त में आया है, जब अप्रैल में बीजेपी नेता सुशील मोदी ने लालू यादव और उनके परिवार पर ८० लाख रुपये का मिट्टी घोटाला करने का आरोप लगाया था.

आरोप ये था कि पटना में बन रहे एक मॉल की मिट्टी को संजय गांधी जैविक उद्यान यानी पटना ज़ू को सप्लाई किया गया. पटना ज़ू वन एवं पर्यावरण विभाग के मातहत काम करता है और इस विभाग के मंत्री लालू यादव के बड़े बेटे तेजप्रताप यादव हैं.

Comments

You may also like

सुनहरा मौका: ‘मॉल न जाने वाली लड़कियां मिलें राबड़ी देवी से’
Loading...