राजनीति में खिलेगा बॉलीवुड का “कमल” – दि फिअरलेस इंडियन
Home / मनोरंजन / राजनीति में खिलेगा बॉलीवुड का “कमल”

राजनीति में खिलेगा बॉलीवुड का “कमल”

  • hindiadmin
  • September 26, 2017
Follow us on

दक्षिण भारतीय फिल्मों के सुपरस्टार कमल हासन के राजनीति में आने को लेकर लंबे समय से अटकलें लगाई जा रही हैं. कहा जा रहा है कि दक्षिण भारतीय फिल्म इंडस्ट्री का ये सितारा जल्द ही या तो अपनी पार्टी बनाएगा या फिर किसी बड़ी राजनीतिक पार्टी को ज्वाइन कर सकता है. पिछले ही दिनों कमल हासन ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से मुलाकात की थी जिसके कई राजनीतिक मायने निकाले गए.

हाल ही में कमल हासन ने यह कहकर लोगों को चौंका दिया था कि तमिलनाडू में अच्छे दिनों की दरकार है और इसके लिए वो अपनी राजनीतिक पार्टी बनाने की सोच रहे हैं. इतना ही नहीं रजनीकांत के लिए उन्होंने कहा कि रजनीकांत भाजपा के बेहतर सहयोगी साबित हो सकते हैं.

एक समाचार चैनल को दिए इंटरव्यू में कमल हासन ने कहा कि वो अपने देश से बहुत प्यार करते हैं लेकिन अच्छे काम की शुरूआत अपने घर से होनी चाहिए, लिहाजा मैं जातिवाद और संप्रदायिकता के खिलाफत राजनीति की शुरूआत अपने ही राज्य से करना चाहता हूं.

रजनीकांत के राजनीति में आने के सवालों पर कमल हासन ने संकेत दिए थे कि वो भाजपा में जा सकते हैं. कमल हासन ने कहा कि वो रजनीकांत से बेहद प्रेम करते हैं औऱ दोनों बहुत ही अच्छे दोस्त है. कमल ने कहा कि मैं हर काम में उनकी (रजनीकांत की) सलाह जरूर लेता हूं और इस मसले पर भी मैंने उनसे मशविरा लिया. उन्होंने कहा कि मुझे जरूर अपने सोचे हुए को पूरा करना चाहिए.

नए साल से पहले हो सकती है शुरुआत-
कमल हासन ने संकेत दिए हैं कि वो तमिलनाडु की दोनों बड़ी पार्टियों डीएमके और एआईडीएमके के खिलाफ एक ऐसी पार्टी बनाएंगे जो जनता के लिए और जनता की होगी और जिसका मुख्य मकसद भ्रष्टाचार के खिलाफ जंग लड़ना होगा. उन्होंने कहा कि इतना तय है कि राजनीति में आने और कोई संवैधानिक पद लेने के बाद वो एक्टिंग को पूरी तरह त्याग देंगे.

‘वामपंथियों के ज्यादा करीब कमल हासन किस विचारधारा के ज्यादा करीब हैं’, ये सवाल पूछे जाने पर कमल हासन ने कहा कि वो किसी खास विचाराधारा का समर्थन नहीं कर पाते. लेकिन ज्यादातर जिन लोगों से वो प्रभावित होते हैं या जिनके विचारों की वो कद्र करते हैं, उनमें से अधिकतर लोग वामपंथी विचारधारा के होते हैं.

बीजेपी से गठजोड़ होने की संभावनाओं पर पूछे गए सवाल पर कमल हासन ने कहा, ‘यदि यह मेरी विचारधारा के आड़े नहीं आता और यह सिर्फ प्रशासन के बारे में है, तो यह संभव है. कई बार आपको लोगों की भलाई के बारे में सोचना होता है. मुझे नहीं लगता कि वे मेरी विचारधारा से सहमत होंगे. यदि लोगों की भलाई का विषय है तो राजनीति में कोई भी अछूत नहीं होता है.’

पहले कहा जा रहा था कि कमल हासन भी रजनीकांत के साथ भाजपा में जा सकते हैं. लेकिन पिछले दिनों अरविंद केजरीवाल से मुलाकात के बाद इस अभिनेता की राजनीतिक विचारधारा को लेकर कई तरह के मायने खोजे जा रहे हैं.

पिछले कुछ सालों में ट्विटर पर कमल हासन के विवादित बयानों की खिलाफत खुद भाजपा कर चुकी है जिसके परिपेक्ष्य में कई बार विवाद भी हुए. ये भी संभव है कि कमल हासन दक्षिण भारत की राजनीति में आम आदमी पार्टी का प्रतिनिधित्व करें या फिर वामपंथी राजनीतिक को मजबूत करें.

फिलहाल एक्टिंग का ये कमल किस पार्टी में खिलेगा, ये तय करना केवल उसी के हाथ में है. बाकी पक्ष केवल आकलन ही लगा सकते हैं.

आपको क्या लगता है, बॉलीवुड का “कमल” कहां खिलना चाहिए? AAP, BJP, Congress या एक ऐसी पार्टी बनानी चाहिए जो जनता के लिए और जनता की होगी…      

Comments

You may also like

राजनीति में खिलेगा बॉलीवुड का “कमल”
Loading...