आरएसएस-भाजपा को लेकर सवाल पूछने पर मोहन भागवत ने कहा… – दि फिअरलेस इंडियन
Home / समाचार / आरएसएस-भाजपा को लेकर सवाल पूछने पर मोहन भागवत ने कहा…

आरएसएस-भाजपा को लेकर सवाल पूछने पर मोहन भागवत ने कहा…

  • hindiadmin
  • September 12, 2017
Follow us on

इंडिया फाउंडेशन की ओर से आयोजित कार्यक्रम में डिप्लोमैट्स को संबोधित करने के दौरान मोहन भागवत का यह बयान बेहद मायने रखता है. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) के प्रमुख मोहन भागवत ने कहा है कि जब कोई यह बोलता है कि वह हिंदू है तो इसका मतलब उसके धर्म या फिर रहने के तरीके से नहीं है. बल्कि इसका साफ तौर मतलब है कि आपके सामने वाला व्यक्ति जैसा है हम उसको वैसे ही स्वीकार करते हैं. इसके अलावा उन्होंने कहा कि हिंदू का मतलब क्या पहनना और क्या खाना नहीं है. साथ ही हिंदुत्व का मतलब किसी पर कुछ जबर्दस्ती थोपना भी नहीं है. यह बातें उन्होंने ५० से ज्यादा विदेशी राजनयिकों के साथ एक संवाद कार्यक्रम के दौरान कही.

अंग्रेजी अखबार इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक, भागवत से जब इस कार्यक्रम में सवाल किया गया कि क्या आने वाले लोकसभा चुनाव तक राम मंदिर का मसला सुलझ जाएगा? इसके जवाब में भागवत ने कहा कि यह मामला अभी सुप्रीम कोर्ट में है और सुप्रीम कोर्ट का इसपर जो भी फैसला आएगा, उन्हें स्वीकार्य होगा.’’

वहीं इस कार्यक्रम में उन्होंने एक सवाल के जवाब में साफ किया कि संघ बीजेपी को नहीं चलाता और बीजेपी संघ को नहीं चलाती. हम स्वतंत्र रहकर एक स्वंयसेवक के तौर पर एक-दूसरे के संपर्क में रहते हैं और विचारों को साझा करते हैं. दोनों को ही अलग निर्णय लेने की आजादी है. कभी-कभी संघ और बीजेपी का कॉमन अजेंडा होता है, लेकिन यह नैचरल है और इसका निरीक्षण नहीं किया जाता है. संघ हमेशा बेहतर इंसान बनाने के मिशन पर काम करता आया है. संघ स्वास्थ्य, शिक्षा, ग्राम विकास जैसे विभिन्न क्षेत्रों में १.७० लाख सेवा कार्यों का संचालन करता है. उन्होंने विदेश राजनयिकों को संघ के शाखा में आने का भी न्योता दिया.

भागवत ने साफ कहा कि उनका संगठन इंटरनेट पर आक्रामक व्यवहार और ट्रोलिंग का समर्थन नहीं करता. ऐसा करना स्तरहीनता है. मौके पर मौजूद प्रसार भारती के चेयरमैन ए. सूर्यप्रकाश की ओर से किए गए ट्वीट्स के मुताबिक संघ प्रमुख ने कहा, ‘ट्रोलिंग करना स्तरहीन है. हम इस तरह का आक्रामक रुख अपनाने वाले लोगों का समर्थन नहीं करते. हम इंटरनेट पर आक्रामक व्यवहार का सपोर्ट नहीं करते हैं.’

इस दौरान संघ प्रमुख ने डिप्लोमैट्स को संबोधित करने के साथ ही सवालों के जवाब भी दिए. उन्होंने कहा कि आरएसएस किसी के साथ भेदभाव में विश्वास नहीं रखता. भागवत के हवाले से सूर्यप्रकाश की ओर से किए गए एक और ट्वीट में कहा गया, ‘भेदभाव रहित समाज, देश की एकता के साथ ही विश्व की एकता हमारा लक्ष्य है.’

Comments

You may also like

आरएसएस-भाजपा को लेकर सवाल पूछने पर मोहन भागवत ने कहा…
Loading...