मोदी राज में महिला सशक्तीकरण को मिल रहा बढ़ावा – दि फिअरलेस इंडियन
Home / समाचार / मोदी राज में महिला सशक्तीकरण को मिल रहा बढ़ावा

मोदी राज में महिला सशक्तीकरण को मिल रहा बढ़ावा

  • hindiadmin
  • June 4, 2019
Follow us on

अब जंग के मैदान में महिलाएं भी तेज रफ्तार से उड़ते लड़ाकू विमानों में कलाबाजियां करेंगी। जमीन से हजारों फीट ऊपर लड़ाकू विमानों की तेज रफ्तार और आवाज के बीच जल्द ही नजर आएगी नारी शक्ति। जल्द ही सुखोई और तेजस जैसे फाइटर प्लेन उड़ाती दिखेंगी हमारे देश की जांबाज लड़कियां।

किसी क्षेत्र में मौका मिलने पर महिलाएं किसी भी मामले में पुरुषों से कम नहीं है, इस बात को मोहना सिंह ने चरितार्थ कर दिखाया है। उन्होंने कठिन प्रशिक्षण में पास होकर भारत की पहली युद्धक विमान पायलट (फ्लाइट लेफ्टिनेंट) बनकर नया इतिहास रचा है। अत्याधुनिक युद्धक विमान उड़ाने में योग्यता हासिल कर चुकी पहली महिला के रूप में इतिहास में मोहना सिंह का नाम सुनहरे अक्षरों में लिखा जाएगा।

मोहना सिंह की जीवनी-
मोहना सिंह का जन्म राजस्थान के झुनझुन जिले में हुआ है। उन्होंने अमृतसर स्थित ग्लोबल इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट एंड एमर्जिंग टेक्नलोजिस में डिग्री और इलेक्ट्रानिक्स एंड कम्युनिकेशन्स में बी.टेक की पढ़ाई पूरी की है। 2013 में मोहना सिंह ने 83.7 प्रतिशत मार्क्स के साथ अपनी इंजीनियरिंग की पढ़ाई पूरी की।

मोहना सिंह के पिता वायुसेना में वारंट ऑफिसर के रूप में कार्यरत हैं। दादा लाडू राम एविएशन रिसर्च सेंटर में फ्लाइन गनर रहे। उन्होंने 1948 के भारत-पाक युद्ध में भी हिस्सा लिया और उन्हें वीर चक्र अवार्ड से नवाजा जा चुका है। मोहना सिंह के पिता प्रताप सिंह जहां ड्यूटी कर रहे हैं, वहीं मोहना सिंह बतौर ट्रेनी कैडेट के रूप में भर्ती हुईं।

मोहना कहती हैं, ‘मैं तो ट्रांसपोर्ट विमान उड़ाना चाहती थी, लेकिन मेरे ट्रेनर ने मुझे लड़ाकू विमान के लिए प्रेरित किया. लड़ाकू विमानों का करतब और उनकी तेजी की वजह से मैं यहां पर हूं.’

वायुसेना के मुताबिक अब मोहना ‘एयर टू एयर’ और ‘एयर टू ग्राउंड’ मिशन के लिए पूरी तरह से तैयार हैं। उन्हें ट्रेनिंग के दौरान रॉकेट और हाई कैलिबर बम गिराने के साथ कई तरह के प्रशिक्षण दिए गए। इस दौरान मोहना ने लगभग 500 घंटों तक उड़ान भरी, जिसमें हॉक एयरक्राफ्ट एमके 132 जेट को 380 घंटे तक उड़ाया। 

Image result for mohana singh pilot

देश की महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में महिला सशक्तीकरण के क्षेत्र में काफी काम किया जा रहा है। मोदी सरकार ने पिछले पांच साल के कार्यकाल में कई ऐसे कार्य किए हैं, जिनसे न सिर्फ महिलाओं में विश्वास जागा है, बल्कि वो आत्मनिर्भर भी हुईं हैं। केंद्र सरकार लगातार महिलाओं के विकास के लिए बड़े फैसले ले रही है। यही वजह है कि आज देश में महिलाएं नए-नए कीर्तिमान स्थापित कर रही हैं।

Comments

You may also like

मोदी राज में महिला सशक्तीकरण को मिल रहा बढ़ावा
Loading...