पुलिसकर्मियों के लिए मुंबई पुलिस ने लाई ‘मील्स ऑन व्हील्स’ नामक योजना – दि फिअरलेस इंडियन
Home / समाचार / पुलिसकर्मियों के लिए मुंबई पुलिस ने लाई ‘मील्स ऑन व्हील्स’ नामक योजना

पुलिसकर्मियों के लिए मुंबई पुलिस ने लाई ‘मील्स ऑन व्हील्स’ नामक योजना

  • hindiadmin
  • June 19, 2017
Follow us on

मुंबईकरों की सुरक्षा के साथ-साथ पुलिसकर्मियों को सेहतमंद बनाने के मकसद से मुंबई पुलिस ने ‘‘मील्स ऑन व्हील्स’’ योजना की शुरुआत की है. चौबीसों घंटे मुंबईकरों की सुरक्षा करने वाले पुलिस के जवान गर्मी हो या बरसात, सड़कों पर तैनात रहते हैं. पुलिसकर्मी अक्सर ड्यूटी के चक्कर में जंक फूड या खराब गुणवत्ता का खाना खाते हैं. इसका उनकी सेहत पर प्रतिकूल असर पड़ रहा है। इस वजह से उन्हें मधुमेह, उच्च रक्तचाप और दूसरी गंभीर बीमारियां हो जाती हैं.

आंकड़ों के मुताबिक, औसतन १०० से १२० पुलिसकर्मियों की हर वर्ष असामयिक मौत होती है. इनमें ५१.८% बीमारियां पेट संबंधी होती है. वर्ष २०१४ से २०१६ के बीच ७८ पुलिसकर्मियों को हार्ट अटैक होने से जान गंवानी पड़ी. इन सभी कारणों को देखते हुए मुंबई पुलिस के आयुक्त दत्ता पडसलगीकर ने ‘‘मील्स ऑन व्हील्स’’ योजना शुरू की है. इसका मकसद पर्व-त्योहार, महत्वपूर्ण हस्तियों के आवागमन या घटनाओं के वक्त सुरक्षा बंदोबस्त के दौरान डयूटी पर तैनात पुलिसकर्मियों को साफ-सुथरा और और हाइजीनिक खाना मुहैया कराना है.

मुंबई पुलिस की प्रवक्ता डीसीपी रश्मि करंदीकर ने कहा कि लंबी ड्यूटी के दौरान पुलिसकर्मियों को खाने-पीने की तकलीफ होती है. ड्यूटी पर तैनात पुलिसकर्मियों को सही वक्त पर पोषक आहार मुहैया किए जाने के मकसद से ‘‘मील्स ऑन व्हील्स’’ योजना शुरू की गई है.

HD Image of Meals on wheels mumbai police साठी प्रतिमा परिणाम

इस वैन में क्या है खास-
मुंबई पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार, पुलिसकर्मियों के लिए बंदोबस्त के दौरान जिस मोबाइल कैंटीन के जरिए खाने का इंतजाम किया गया है, उसमें कई खासियत हैं. इस मोबाइल कैंटीन वैन में एक साथ आठ लोगों के बैठकर खाने की व्यवस्था है जबकि मोबाइल कैंटीन वैन में गैस चूल्हा, गैस सिलिंडर, बेसिन और पानी की टंकी भी लगाई गई है. हालांकि, यह मोबाइल कैंटीन ऐसी वैन में बनाई गई है जिनका इस्तेमाल मुंबई पुलिस छह साल पहले तक पेट्रोलिंग वाहन के रूप में करती थी. ये वैन वहां तैनात रहेंगे जहां पुलिसकर्मियों तक वक्त पर खाने-पीने की सुविधा का इंतजाम नहीं रहता है. फिलहाल ऐसे पॉइंट्स की तलाश जारी है.

कहां से आया कॉन्सेप्ट-
परिवहन विभाग के डीसीपी अतुल पाटील ने मोबाइल कैंटीन वैन योजना का कॉन्सेप्ट मुंबई पुलिस को दिया था, जिस पर अमल करते हुए आयुक्त ने पुलिसकर्मियों के लिए यह सुविधा शुरू की है. पुलिस आयुक्त पडसलगीकर के अनुसार, अब जहां भी बंदोबस्त में मुंबई पुलिस के जवान तैनात होंगे, वहां इस मोबाइल कैंटीन को ले जाकर लगा दिया जाएगा. इससे शहर की सुरक्षा में तैनात पुलिसवालों की सेहत सुरक्षित रहेगी, क्योंकि बंदोबस्त में मौजूद जवानों के लिए साफ-सुथरा और पोषक आहार मिलेगा.

Comments

You may also like

पुलिसकर्मियों के लिए मुंबई पुलिस ने लाई ‘मील्स ऑन व्हील्स’ नामक योजना
Loading...