पाक: बातचीत से हो कश्मीर मुद्दे का हल – दि फिअरलेस इंडियन
Home / समाचार / पाक: बातचीत से हो कश्मीर मुद्दे का हल

पाक: बातचीत से हो कश्मीर मुद्दे का हल

  • hindiadmin
  • September 9, 2017
Follow us on

पाकिस्तानी सेना के प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा ने कश्मीर मुद्दे का समाधान राजनीतिक और कूटनीतिक स्तर पर करने की वकालत की. पहली बार पाकिस्तानी सेना के किसी भी जनरल ने कश्मीर मुद्दे का समाधान शांतिपूर्ण ढंग से ढूंढने की बात कही है.

पाकिस्तान के सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा ने कश्मीर विवाद के संकल्प को राजनैतिक और कूटनीतिक साधनों के माध्यम से पेश करने का आह्वान किया है, पाकिस्तानी सेना का जिस तरह का रवैया रहा है, उसे देखकर ये बयान एक अलग दृष्टिकोण का रुख करता है.

बाजवा ने ये बयान अपने वार्षिक ‘रक्षा दिवस’ के भाषण के दौरान दिया. बाजवा का ये बयान पाकिस्तानी विदेश मंत्री ख्वाजा मोहम्मद आसिफ के बयान के दो दिन बाद आया है. इससे पहले पाकिस्तानी विदेश मंत्री ख्वाजा मोहम्मद आसिफ ने पहली बार यह कबूल किया था कि, लश्कर-ए-तैयबा और जैश-ए-मुहम्मद जैसे अंतरराष्ट्रीय आतंकवादी संगठन उनके देश के अंदर चल रहे हैं.

बाजवा ने जोर देते हुए कहा कि, शांति समृद्धि के लिए जरूरी है, इन दोनों देशों के लाखों लोगों का कल्याण स्थायी शांति से जुड़ा हुआ है. उन्होंने कहा, पाकिस्तान का अपमान करने और कश्मीरियों के खिलाफ शक्ति प्रयोग करने के बजाय, इस विवाद का समाधान राजनयिक और राजनीतिक साधन से करना चाहिए.

बाजवा ने अपने भाषण के दौरान भारत का नाम नहीं लिया लेकिन पड़ोसी देश के रूप में संबोधित करते हुए उन्होंने कहा,  ‘दक्षिण एशिया में परमाणु हथियार हम लेकर नहीं आए और हमारे परमाणु हथियार साधारण रूप से शांति बनाए रखने की गारंटी है. यह हमारा उस पड़ोसी देश को जवाब है, जो ताकत में कहीं आगे है. यह वही देश है, जो दक्षिण एशिया में एक गैर परंपरागत युद्ध लेकर आया है.’

जनरल बाजवा ने कहा, ‘हमने आतंकवाद, अतिवाद और आर्थिक नुकसान के रूप में सुपर शक्तियों द्वारा शुरू की गई युद्धों की कीमत चुकाई है. हम अपनी नीति का पालन कर रहे हैं कि हम किसी भी देश के खिलाफ अपनी मिट्टी का इस्तेमाल नहीं करने देंगे, और अन्य देशों से भी हम यही आशा रखते हैं.’

आतंकवाद के विरुद्ध एक समेकित वैश्विक लड़ाई के चलते पाकिस्तानी सैन्य नेतृत्व की दृष्टिकोण में परिवर्तन आया है. हाल ही में पाकिस्तान को आतंकवादियों के आश्रय के लिए अमेरिका सहित दुनिया भर से करारा जवाब मिलने लगा है. जिससे पाकिस्तान की नीतियों में यह बदलाव शुरू होता दिख रहा है. कहा तो यह भी जा रहा है मोदी की कूटनीति के कारण यह बदलाव होने की आशंका है.

Comments

You may also like

पाक: बातचीत से हो कश्मीर मुद्दे का हल
Loading...