महिला ने किया संजय गांधी की बेटी होने का दावा, कहा- करा लो DNA – दि फिअरलेस इंडियन
Home / मनोरंजन / महिला ने किया संजय गांधी की बेटी होने का दावा, कहा- करा लो DNA

महिला ने किया संजय गांधी की बेटी होने का दावा, कहा- करा लो DNA

  • hindiadmin
  • July 11, 2017
Follow us on

प्रिया सिंह पॉल नाम की एक महिला ने दावा किया है कि वह कांग्रेस के दिवंगत नेता संजय गांधी की बेटी है और पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की पोती है. प्रिया ने कहा है कि सच्चाई जानने के लिए उनका डीएनए टेस्ट करवाया जाए ताकि उन्हें पहचान मिल सके. प्रिया ने यह भी दावा किया कि संजय गांधी व उनकी मां ने मंदिर में विवाह किया था और पूर्व प्रधानमंत्री इंद्र कुमार गुजराल के परिवार को उनकी मां व पिता संजय गांधी के रिश्तों का पता था.

एक प्रेस कांफ्रेंस को सम्बोधित करते हुए प्रिया ने कहा कि उनके जन्म के तुरंत बाद जबरन उनकी मां को दिल्ली छोड़ने के लिए मजबूर कर दिया गया और उसे पाल दंपति को गोद दे दिया गया. इंदिरा गांधी के छोटे बेटे संजय गांधी की १९८० में एक विमान हादसे में मौत हो गयी थी.

पॉल ने मीडिया से बातचीत में कहा कि फिल्म निर्माताओं के अनुसार फिल्म में ३० प्रतिशत तथ्य हैं और ७० प्रतिशत कल्पना है. पॉल ने कहा कि ये कथित ३० प्रतिशत तथ्य कल्पना को जन्म देते हैं जिससे लोगों के दिमाग में एक खास राय बनेगी. पॉल ने कहा कि वो मीडिया के सुर्खियों में आने के लिए ये सब नहीं कर रही हैं. पॉल के अनुसार वो अपने “पिता” की छवि खराब किए जाने के विरोध में सामने आई हैं. खुद को संजय गांधी का दोस्त बताने वाले गोस्वामी सुशीलजी महाराज ने नामक व्यक्ति ने अदालत में हलफनामा देकर दावा किया है कि संजय गांधी की शादी से पहले एक “लड़की” थी और उसे इस बात की जानकारी थी. पॉल के अनुसार उन्हें बड़े होने पर अपने पिता के बारे में पता चला था.

इस बीच प्रिया ने आरोप लगाया है कि आगामी फिल्म इंदु सरकार कांग्रेस के दिवंगत नेता और उनकी मां तथा पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी को गलत रूप में पेश करती है. प्रिया सिंह पॉल ने तीस हजारी अदालत में दायर की एक याचिका में दावा किया कि उसे गोद लेने के कागजात जाली हैं और एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि फिल्म में गलत रूप में पेश की गयी चीजों के कारण वह अपनी चुप्पी तोड़ने पर मजबूर हुई.

कांग्रेस नेता संजय निरुपम ने मांग की है कि फिल्म की उनके लिए अलग से स्क्रीनिंग कराई जाए. हालांकि, फिल्म के निर्देशक मधुर भंडारकर ने निरुपम के अनुरोध को खारिज करते हुए कहा है कि वह किसी भी राजनीतिक दल के लिए अलग स्क्रीनिंग नहीं करेंगे. इंदु सरकार १९७५ में इंदिरा गांधी द्वारा लगाए गए आपातकाल की पृष्ठभूमि पर आधारित है और २८ जुलाई को रिलीज होगी.

Comments

You may also like

महिला ने किया संजय गांधी की बेटी होने का दावा, कहा- करा लो DNA
Loading...