राहुल का सवाल- पनामा मामले में नवाज शरीफ ने तो इस्तीफा दिया, छत्तीसगढ़ के CM ने क्यों नहीं? – दि फिअरलेस इंडियन
Home / समाचार / राहुल का सवाल- पनामा मामले में नवाज शरीफ ने तो इस्तीफा दिया, छत्तीसगढ़ के CM ने क्यों नहीं?

राहुल का सवाल- पनामा मामले में नवाज शरीफ ने तो इस्तीफा दिया, छत्तीसगढ़ के CM ने क्यों नहीं?

  • hindiadmin
  • July 29, 2017
Follow us on

छत्तीसगढ़ दौरे में कांग्रेस के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने मारकेल में सभा को संबोधित किया. उन्होंने कहा कि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ का नाम पनामा पेपर्स मामले में आया था, उन्हें इस्तीफा देना पड़ा. छत्तीसगढ़ के सीएम रमन सिंह के परिवार के लोगों का नाम भी इसमें आया था. लेकिन उन्होंने अभी तक इस्तीफा नहीं दिया. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी रमन सिंह द्वारा किया जा रहा भ्रष्टाचार नहीं दिखता. राहुल गांधी ने सीधे प्रधानमंत्री पर निशाना साधते हुए कहा कि नोटबंदी के बाद कोई फर्क नहीं पड़ा, जिनके पास कालाधन था वो आज भी है. इससे आम आदमी को परेशानी उठानी पड़ी.

राहुल गांधी ने कहा कि छत्तीसगढ़ की सरकार किसानों और आदिवासियों से उनका हक छीन रही हैं. आरएसएस के लोग कहते हैं आरक्षण को बंद करना है. आउटसोर्सिंग का मतलब पीछे के दरवाजे से आरक्षण बंद करना है. यहां कोई भी नई चीज होती है तो उसमें स्थानीय लोगों को काम नहीं मिलता. क्या आप काम करना नहीं जानते, बिल्कुल जानते हैं. लेकिन आपसे काम करने का हक भी छीना जा रहा है. यहां लोगों से बोला गया था कि स्टील प्लांट आएगा तो लोगों को रोजगार मिलेगा. इससे खुश होकर किसानों ने अपनी जमीन दे दी, लेकिन पता चला कि कोई भी कंपनी यहां प्लांट नहीं लगा रही. इस खुलासे के बाद भी लोगों को अपनी जमीन वापस नहीं मिली.

उन्होंने कहा कि बस्तर में राज्य सरकार ने कोई सुविधाएं नहीं उपलब्ध कराई हैं. कांग्रेस की सरकार बनने पर हम सभी को बराबर का हक देंगे. बस्तर के लोग इलाज कराने दूसरे शहरों में जाते हैं, लेकिन हम यहां ऐसा अस्पताल बनाएंगे कि दूसरे शहरों के लोग यहां इलाज कराने आएंगे. छत्तीसगढ़ की जनता भाजपा सरकार को समझ चुकी है. अगर बस्तर की विकसित नहीं होगा तो फिर ये पूरा प्रदेश और देश कैसे विकसित होगा.

कार्यकर्ताओं के बीच बैठ गए-
इसके पहले राहुल गांधी ने बस्तर में मिशन २०१८ को लेकर कांग्रेस को मजबूत करने के लिए अपने कार्यकर्ताओं का मनोबल बढ़ाया. शनिवार सुबह वे कांग्रेस के प्रशिक्षण शिविर में पहुंचे और पीछे की लाइन में कार्यकर्ताओं के बीच जाकर बैठ गए. उन्होंने देखा कि किस तरह प्रशिक्षण दिया जा रहा है. करीब ११:३० बजे तक वे इसमें मौजूद रहे, जिसके बाद दूसरे कार्यक्रम के लिए निकल गए. कांग्रेस भवन में भी बैठक का आयोजन किया गया.

Comments

You may also like

राहुल का सवाल- पनामा मामले में नवाज शरीफ ने तो इस्तीफा दिया, छत्तीसगढ़ के CM ने क्यों नहीं?
Loading...