स्वतंत्रता दिवस पर सुषमा स्वराज का ऐलान, पाक के सभी जरुरतमंदों को देंगे मेडिकल वीजा – दि फिअरलेस इंडियन
Home / समाचार / स्वतंत्रता दिवस पर सुषमा स्वराज का ऐलान, पाक के सभी जरुरतमंदों को देंगे मेडिकल वीजा

स्वतंत्रता दिवस पर सुषमा स्वराज का ऐलान, पाक के सभी जरुरतमंदों को देंगे मेडिकल वीजा

  • hindiadmin
  • August 16, 2017
Follow us on

सुषमा स्वराज ने स्वतंत्रता दिवस पर पाकिस्तान के जरूरतमंदों को बड़ा तोहफा दिया है. उन्होंने ऐलान किया, “स्वतंत्रता दिवस के शुभ अवसर पर भारत में इलाज के लिए वीजा मांगने वाले पाकिस्तानियों के जो भी वास्तविक मामले लंबित पड़े हैं, हम उन सभी को मेडिकल वीजा मुहैया कराएंगे.”

फॉरेन मिनिस्टर सुषमा स्वराज ने मंगलवार को ट्वीट कर यह ऐलान किया. उन्होंने इसके साथ पाक में इंडियन हाई कमीशन को भी टैग किया है. बता दें कि कुछ हफ्तों पहले सुषमा ने कहा था कि भारत पड़ोसी देश के उन सिटिजंस के एप्लिकेशन को ही मेडिकल वीजा के लिए मंजूरी देगा, जिनके लिए पाकिस्तान प्राइम मिनिस्टर के फॉरेन ऑफिस एडवाइजर सरताज अजीज ने सिफारिश की होगी. हालांकि अजीज अब पाक पीएम के फॉरेन ऑफिस एडवाइजर नहीं हैं. अजीज अब प्लानिंग कमीशन के डिप्टी चेयरमैन हैं.

PAK के सभी जरूरतमंदों को देंगे मेडिकल वीजा: 15 अगस्त पर सुषमा का एलान, national news in hindi, national news

कैंसर पीड़ित फैजा तनवीर को दिया वीजा-
सुषमा ने कैंसर से पीड़ित पाकिस्तान की फैजा तनवीर को १३ अगस्त को मानवीयता के आधार पर मेडिकल वीजा देने का भरोसा दिलाया था. फैजा ने सुषमा से भारत में इलाज के लिए ट्विटर पर मदद मांगी थी. सुषमा ने ट्वीट किया था, “भारत के स्वतंत्रता दिवस पर आपकी शुभकामनाओं के लिए धन्यवाद. हम आपको भारत में आपके इलाज के लिए वीजा दे रहे हैं.” इससे पहले, फैजा ने सुषमा को ट्वीट में लिखा था, “सुषमा स्वराज मैम आप मेरे लिए मां ही हैं, प्लीज मैम मुझे मेडिकल वीजा दे दें, इस ७०वीं आजादी के साल की खुशी में मेरी मदद कर दें धन्यवाद.”

PAK के सभी जरूरतमंदों को देंगे मेडिकल वीजा: 15 अगस्त पर सुषमा का एलान, national news in hindi, national news

ढाई साल के बच्चे को भी दिया था मेडिकल वीजा-
पाकिस्तान के एक शख्स ने @KenSid2 हैंडल से २४ मई को एक ट्वीट किया था. इस शख्स ने ट्वीट में सुषमा और पूर्व पाक पीएम नवाज शरीफ के तब के फॉरेन अफेयर्स एडवाइजर सरताज अजीज को टैग करते हुए लिखा था- मेरा बच्चा मेडिकल ट्रीटमेंट से मोहताज क्यों रहे? क्या सर अजीज और मैडम सुषमा इसका जवाब देंगे?
७ दिन बाद सुषमा स्वराज ने इस शख्स को ट्विटर के जरिए ही जवाब दिया. कहा- भारत आपकी फैमिली को मेडिकल वीजा जरूर देगा. बच्चे को दिक्कत नहीं होगी. आप इंडियन हाईकमीशन से कॉन्टेक्ट करें. उसने ऐसा ही किया और २ जून को उसे वीजा मिल गया.

वीजा के लिए भारत पर डिपेंड पाकिस्तानी-
पहले साउथ एशियाई देशों के ज्यादातर पेशेंट्स मेडिकल वीजा के लिए सिंगापुर या थाईलैंड का रुख करते थे, लेकिन बीते कुछ साल से भारत में मेडिकल फैसिलिटीज में जबर्दस्त सुधार हुआ. अब एशियाई देशों के ज्यादातर पेशेंट्स इलाज के लिए भारत को तवज्जो देते हैं.

दिल्ली के अपोलो हॉस्पिटल में हर महीने करीब ५०० पाकिस्तानी पेशेंट्स इलाज के लिए आते हैं. इनमें लिवर ट्रांसप्लांट के पेशेंट भी होते हैं. अपोलो में इस पर करीब ३० लाख रुपए खर्च होता है जबकि यूरोप या बाकी देशों में खर्च छह से सात गुना ज्यादा होता है. दूसरी बात, भाषा की भी ज्यादा दिक्कत नहीं आती.

दो साल पहले भी जब सरहद पर हालात खराब थे, भारत ने बस्मा नाम की पाकिस्तानी बच्ची को इमरजेंसी मेडिकल वीजा दिया था.

Comments

You may also like

स्वतंत्रता दिवस पर सुषमा स्वराज का ऐलान, पाक के सभी जरुरतमंदों को देंगे मेडिकल वीजा
Loading...