‘अमेरिका ने अफगानिस्‍तान को बना दिया हथियारों का टेस्टिंग ग्राउंड’ – दि फिअरलेस इंडियन
Home / समाचार / ‘अमेरिका ने अफगानिस्‍तान को बना दिया हथियारों का टेस्टिंग ग्राउंड’

‘अमेरिका ने अफगानिस्‍तान को बना दिया हथियारों का टेस्टिंग ग्राउंड’

  • hindiadmin
  • April 14, 2017
Follow us on

डोनाल्ड ट्रंप ने राष्ट्रपति बनने के बाद से ही पूरी दुनिया को संदेश दिया था कि वो अमेरिका की सुरक्षा के लिए कुछ भी करेंगे चाहे वो आतंकवाद क्यों ना हो. इसलिए अमेरिका ने आईएसआईएस के खिलाफ अफगानिस्तान में पहली बार दुनिया के सबसे शक्तिशाली गैर-परमाणु बम का इस्तेमाल किया है. मीडिया रिपोर्ट्स की माने तो यह २१६०० पौंड वजनी इस बम का नाम GBU-43 है. इसे “मदर ऑफ आल बम” भी कहा जाता है. यह बम कितना खरतनाक है, इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि इस तरह के बम पूरी दुनिया में सिर्फ १५ है.

शुरुआती जानकारी के मुताबिक अफगानिस्तान में नानगरहार के अचिन जिले में मौजूद आईएसआईएस के ठिकाने पर शाम ७ बजे अमेरिका ने यह हमला किया. अब तक का सबसे बड़ा गैर परमाणु बम से किया गया हमला है. यह हमला आईएसआईएस की सुरंग को निशाना बनाते हुए किया गया है. २००३ में इस बम का पहली बार परीक्षण किया गया था.

HD image of america MOAB bomb साठी प्रतिमा परिणाम

अमेरिका ने पहली बार इस बम का इस्तेमाल किया है. इस बम से कितना नुकसान हुआ है, इसका अभी अंदाजा नहीं लगाया जा सका है. बताया जा रहा कि यह बम इतना खतरनाक है कि ये जहां भी गिरेगा उसके सवा तीन किलोमीटर की दूरी तक सब कुछ पूरी तरह से तबाह हो जाएगा. इस एक बम की कीमत तकरीबन दो हजार करोड़ रुपये बताई जा रही है. दुनिया में पहली बार इस बम का इस्तेमाल किया गया है.

Comments

You may also like

‘अमेरिका ने अफगानिस्‍तान को बना दिया हथियारों का टेस्टिंग ग्राउंड’
Loading...