वंदे मातरम ना गाने वाले देश से निकल जाए- शिवसेना सांसद – दि फिअरलेस इंडियन
Home / समाचार / वंदे मातरम ना गाने वाले देश से निकल जाए- शिवसेना सांसद

वंदे मातरम ना गाने वाले देश से निकल जाए- शिवसेना सांसद

  • hindiadmin
  • August 11, 2017
Follow us on

कुछ दिनों पहले मद्रास हाई कोर्ट ने तमिलनाडु के सभी स्कूलों में सप्ताह में कम से कम दो बार राष्ट्रीय गीत ‘वंदे मातरम’ गाना अनिवार्य कर दिया है. अब मुंबई में भी बीएमसी के सभी स्कूलों में ‘वंदे मातरम’ गाना अनिवार्य हो सकता है. शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा है कि जो भी वंदे मातरम नहीं गाएगा उसे देश से भगा देना चाहिए. शिवसेना सांसद का ये बयान बीएमसी के उस फैसले के बाद आया है जिसमें उसने गुरुवार १० अगस्त को बीएमसी और उसके अनुदानित सभी स्कूलों में वंदे मातरम अनिवार्य करने के प्रस्ताव को पास कर दिया था. बीएमसी के इस फैसले का विपक्षी दल विरोध कर रहे हैं.

आपको बता दें कि बीएमसी में प्रस्ताव पास होने के बाद महाराष्ट्र के सीएम देवेंद्र फणनवीस की मुहर लगनी जरूरी है. स्कूलों में वंदे मातरम के अनिवार्य करने को लेकर विरोधी दलों का कहना है कि ये सरासर गलत है, आप किसी को जबरदस्ती कुछ करने के लिए मजबूर नहीं कर सकते. AIMIM विधायक वारिस पठान ने इस फैसले पर आपत्ति जताते हुए कहा है कि ये पूरी तरह से गैर संवैधानिक है. संविधान में कहीं नहीं लिखा गया है कि आपको वंदे मातरम गाना ही पड़ेगा. वारिस पठान ने ये भी कहा है कि अगर इसे जबरदस्ती थोपा गया तो इसका अंजाम भुगतना होगा.

शिवसेना सांसद संजय राउत ने बीएमसी के इस फैसले की सराहना करते हुए कहा है कि ये एक बढ़िया कदम है. किसी को भी वंदेमातरम से आपत्ति नहीं होनी चाहिए. राउत ने ये भी कहा कि जिस किसी को भी इससे आपत्ति है उसे देश से बाहर निकल जाना चाहिए.

आपको बता दें कि पिछले दिनों बीजेपी नगरसेवक संदीप पटेल ने इस संदर्भ में बीएमसी के सामने एक प्रस्ताव रखा था. इस प्रस्ताव में बीएमसी समेत सभी अनुदानित स्कूलों में वंदे मातरम गाना अनिवार्य करने की बात कही गई थी. संदीप ने अपने प्रस्ताव में कहा कि कम से कम सप्ताह में दो दिन स्कूलों में वंदे मातरम गाया जाना चाहिए. संदीप पटेल के इस प्रस्ताव को बीएमसी ने गुरुवार को पास कर दिया.

Comments

You may also like

वंदे मातरम ना गाने वाले देश से निकल जाए- शिवसेना सांसद
Loading...