1 VIP की सुरक्षा के लिए 3 पुलिसकर्मी और 663 लोगों के लिए… – दि फिअरलेस इंडियन
Home / तथ्य / 1 VIP की सुरक्षा के लिए 3 पुलिसकर्मी और 663 लोगों के लिए…

1 VIP की सुरक्षा के लिए 3 पुलिसकर्मी और 663 लोगों के लिए…

  • hindiadmin
  • September 17, 2017
Follow us on

साल दर साल नेता और सरकारें देश में वीआईपी कल्चर को खत्म करने के वादे करती आई है. इस बाबत पहले लाल-नीली बत्तियों के इस्तेमाल पर पाबंदी लगाई गई, फिर तमाम वीवीआईपी लोगों को दी गई सुरक्षा को कम करने की बात की गई, लेकिन जो ताजा हकीकत सामने आई है वह इस बात की तस्दीक करती है कि सरकार की तमाम कोशिशों के बाद भी वीआईपी कल्चर खत्म नहीं हो रहा है. देश में कुल 20,000 वीआईपी ऐसे हैं जिनकी सुरक्षा में हर वक्त तीन पुलिसकर्मी तैनात हैं. वहीं अगर आम आदमी को सुरक्षा देने की बात करें तो देश में प्रति 663 व्यक्ति पर सिर्फ एक ही पुलिसकर्मी तैनात है, ऐसे में देश में नागरिकों की सुरक्षा का अंदाजा लगाया जा सकता है.

गृह मंत्रालय के ब्यूरो ऑफ पुलिस रिसर्च एंड डेवेलपमेंट के आंकड़ों के अनुसार 20,000 वीआईपी लोगों पर औसत तीन पुलिसकर्मी तैनात हैं, बकि आम आदमी की हिफाजत के पुख्ता इंतजाम नहीं हैं, इसकी बड़ी वजह है पुलिसकर्मियों की भारी कमी. आंकड़ों के अनुसार मौजूदा समय में देश में कुल 19.26 लाख पुलिसकर्मी हैं, जिसमें 56944 पुलिसकर्मी 20828 वीआईपी लोगों की सुरक्षा में तैनात हैं. ऐसे में इन आंकड़ों से आप आम आदमी और वीआईपी के बीच के भारी मतभेद का अंदाजा लगा सकते हैं.

आम आदमी के लिए सबसे कम पुलिसकर्मी
भारत में देश के कुल 29 राज्यों और 6 केंद्रशासित राज्यों में वीआईपी लोगों की सुरक्षा में तैनात पुलिसकर्मियों का प्रतिशत निकालें तो यह 2.73 फीसदी है. यहां दिलचस्प बात यह भी है कि लक्षद्वीप देश का एकलौता ऐसा राज्य है जहां एक भी वीआईपी को पुलिस सुरक्षा मुहैया नहीं कराई गई है. वहीं दुनियाभर के देशों से इन आंकड़ों की तुलना की जाए तो भारत विश्व का एकमात्र ऐसा देश है जहां आम जनता के लिए सबसे कम पुलिसकर्मी हैं. भारत में 663 व्यक्तियों पर सिर्फ एक पुलिसकर्मी है.

बिहार में सबसे अधिक वीआईपी सुरक्षा-
आंकड़ों का विश्लेषण करें तो भारत में सबसे ज्यादा वीआईपी सुरक्षा उत्तरी और पूर्वी भारत के लोगों को मुहैया कराई गई है. अगर आम आदमी की सुरक्षा में तैनात पुलिसकर्मियों की बात करें तो सबसे खराब स्थिति बिहार की है. यहां 3200 वीआईपी लोगों के लिए 6248 पुलिसकर्मी तैनात हैं. वहीं पश्चिम बंगाल में 2207 वीआईपी लोगों में 4233 पुलिसकर्मी तैनात हैं. गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल में वीआईपी सुरक्षा के नियमों के अनुसार सिर्फ 501 पुलिसकर्मी ही वीआईपी लोगों की सुरक्षा में तैनात किए जा सकते हैं.

केंद्र सरकार की तरफ से इस प्रवृति को खत्म करने के लिए कई कदम उठाए गए हैं. लाल बत्ती प्रतिबंधित करना ऐसा ही एक कदम है. इसके बावजूद राज्य सरकारें किसी व्यक्ति को पुलिस सुरक्षा देने के लिए अपने नियम बना लेती है. जिन लोगों को पुलिस सुरक्षा मिल रही है उनमें से ज्यादातर अपनी जान को खतरा है ऐसे  कारण देते हैं.

अब बताईए आप क्या VIP कल्चर खत्म हुआ है?

Comments

You may also like

1 VIP की सुरक्षा के लिए 3 पुलिसकर्मी और 663 लोगों के लिए…
Loading...