विकास न करने वाले सांसद-विधायकों को योगी के मंत्री के बोल – दि फिअरलेस इंडियन
Home / समाचार / विकास न करने वाले सांसद-विधायकों को योगी के मंत्री के बोल

विकास न करने वाले सांसद-विधायकों को योगी के मंत्री के बोल

  • hindiadmin
  • July 3, 2017
Follow us on

जिस भाजपा-अपनादल एस गठबंधन को बीते विधानसभा चुनाव में जनता ने हाथों हाथ लिया था, वह यहां सियासी तल्खी का शिकार हो चला है. विरोधी दलों के नेता भी शायद वह नहीं कहते जो प्रदेश के कैबिनेट मंत्री ने जिले से अपना दल और भाजपा के विधायकों के खिलाफ कह दी. उन्होंने खुले मंच से सांसद और विधायकों को नकारा करार दिया ही, जनता से आह्वान किया कि वह तीनों विधायकों के मुंह पर कालिख पोत दें.

प्रतापगढ़ के कोहडौर बाजार जनसभा में पट्टी से भाजपा विधायक व कैबिनेट मंत्री राजेंद्र प्रताप सिंह उर्फ मोती सिंह ने जनता से सवाल-जवाब में बोले, ‘कहा था कि वे (विधायक, सांसद) मंगरौरा क्षेत्र का विकास करें. अगर अगले १५ दिन में ऐसा नहीं होता, तो लोग विश्वनाथगंज से अपना दल (एस) विधायक आरके वर्मा, प्रतापगढ़ सदर से अपना दल (एस) विधायक संगमलाल गुप्ता और रानीगंज से भाजपा विधायक धीरज ओझा के मुंह पर कालिख पोत दें.

मंत्री जी ने ये भी ऐलान कर दिया कि अगला विधानसभा चुनाव वो प्रतापगढ़ सदर सीट से लड़ेंगे, जहां से फिलहाल एनडीए में सहयोगी अपना दल के संगम लाल गुप्ता विधायक हैं. योगी सरकार के मंत्री जी यहीं नहीं रुके. अपना दल के सांसद हरिबंश सिंह के लिए उनका कहना था कि कोहड़ौर क्षेत्र में उनकी जमानत तक नहीं बचेगी. योगी सरकार में मंत्री मोती सिंह के इस बयान के बाद पूरे प्रतापगढ़ क्षेत्र में सियासी खलबली मच गई.

पिछले दिनों तीनों विधायकों ने सांसद की अगुवाई में मुख्यमंत्री से मुलाकात कर राजेंद्र प्रसाद सिंह उर्फ़ मोती सिंह की शिकायत की थी कि वो उनके विधानसभा क्षेत्र में उन्हें बिना बताये पब्लिक मीटिंग करते हैं और ग़लत बयानबाज़ी करते हैं. जिले की प्रभारी मंत्री स्वाती सिंह की उस प्रेस कॉन्फ्रेंस में भी तीनों विधायक नहीं पहुंचे थे, जिसमें सौ दिन की सरकार की उपलब्धि गिनाई थी. विधायकों का कहना था कि उन्हें निमंत्रण नहीं मिला.

योगी सरकार के अभी सौ दिन ही पूरे हुए हैं, लेकिन योगी सरकार के मंत्रियों का यह हाल है. योगी सरकार के ख़िलाफ़ विपक्ष भले ही कमज़ोर हो, लेकिन जिस तरह उनके मंत्री अपने ही विधायकों के ख़िलाफ़ बयान दे रहे हैं, उससे साफ़ है कि अगर समय रहते कंट्रोल नहीं किया गया तो पार्टी और सहयोगी दलों के विधायक सरकार में मंत्री से दो-दो हाथ करते सड़क पर नज़र आएंगे.

Comments

You may also like

विकास न करने वाले सांसद-विधायकों को योगी के मंत्री के बोल
Loading...