योगी सरकार का प्रस्ताव, सरयू तट पर बनेगी प्रभु राम की विशाल प्रतिमा – दि फिअरलेस इंडियन
Home / समाचार / योगी सरकार का प्रस्ताव, सरयू तट पर बनेगी प्रभु राम की विशाल प्रतिमा

योगी सरकार का प्रस्ताव, सरयू तट पर बनेगी प्रभु राम की विशाल प्रतिमा

  • hindiadmin
  • October 10, 2017
Follow us on

‘नव्य अयोध्या’ प्लान के तहत यूपी की योगी आदित्यनाथ सरकार अयोध्या में सरयू नदी के तट पर भगवान राम की एक विशाल मूर्ति बनाने जा रही है. सरकार का मकसद इससे धार्मिक पर्यटन को बढ़ावा देना है. राज्य सरकार के पर्यटन विभाग ने इसका प्रेजेंटेशन राज्यपाल राम नाइक को दिखाया है. ऐसी जानकारी मिली है कि इस प्रेजेंटेशन के स्लाइड शो में भगवान राम की मूर्ति को 100 मीटर का दिखाया गया है लेकिन अभी इसपर अंतिम निर्णय नहीं हो सका है.

राजभवन से जारी प्रेस रिलीज में बताया गया है कि प्रिंसिपल सेक्रेटरी अवनीश कुमार अवस्थी ने इस प्रेजेंटेशन को बनाया है. इसमें 18 अक्टूबर को अयोध्या में होने वाले दीवाली समारोह के लिए तय किए गए कार्यक्रमों की जानकारी होगी. गवर्नर राम नाइक, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, केंद्रीय पर्यटन मंत्री केजे अलफोंस और संस्कृति मंत्री महेश शर्मा भी इस समारोह में मौजूद रहेंगे. विज्ञप्ति में कहा गया कि राष्ट्रीय हरित अधिकरण (एनजीटी) से हरी झंडी मिलने के बाद मूर्ति को सरयू घाट पर बनाया जाएगा.

जब मूर्ति के बारे में अवस्थी ने एक अंग्रेजी अखबार को बताया कि अभी यह ‘कॉन्सेप्ट प्रोजेक्ट’ है और एनजीटी से मंजूरी पाने के लिए पत्र भेजा जाना बाकी है. इसके साथ-साथ योगी सरकार अयोध्या के कायाकल्प को लेकर कई बड़े प्रोजेक्ट्स पर भी काम कर रही है.

योगी सरकार का प्लान नव्य अयोध्या‘-
-सरयू तट पर भगवान श्रीराम की भव्य प्रतिमा
-श्रीराम की प्रतिमा की ऊंचाई 100 मीटर होगी
-रामकथा गैलरी, सरयू तट, घाटों का विकास
-गुप्तार घाट के विकास पर खास फोकस
-गुप्तार घाट पर भगवान राम ने जल समाधि ली थी
-दिगम्बर अखाड़ा परिसर में ऑडिटोरियम का निर्माण
-राम की पैड़ी का विकास, पर्यटकों के ठहरने के स्थल
-सीसीटीवी कैमरा, पुलिस बूथ, आवागमन के साधन

पर्यटन विभाग ने अपने प्रेजेंटेशन में राज्यपाल को बताया कि अयोध्या के विकास कार्यों के लिए 196 करोड़ का डीपीआर बनाकर केंद्र सरकार को भेजा गया था जिसमें 134 करोड़ की राशि केंद्र ने यूपी सरकार को मुहैया करा दी है. अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण का भविष्य अभी सुप्रीम कोर्ट के हाथों में है. फैसला जो भी आए लेकिन श्रीराम के करोड़ों भक्तों को भगवान के भव्य स्वरूप का दर्शन जल्द ही उपलब्ध हो सकता है.

दिवाली पर होने वाले कार्यक्रम: यही नहीं इस बार दिवाली के मौके पर जिसे भगवान राम के अयोध्या वापसी का दिन भी माना जाता है, योगी आदित्यनाथ खुद उनके स्वागत के लिए मौजूद होंगे. योजना है कि इस बार अयोध्या को दिवाली में वैसे ही सजाया जाए जैसा कि दिवाली के दिन त्रेतायुग में भगवान राम के लंका पर विजय हासिल करने के बाद सजाई गई थी. इस मौके पर भगवान राम की अयोध्या वापसी की थीम पर एक भव्य शोभा यात्रा निकाली जाएगी जो छोटी दिवाली के दिन दोपहर 2 बजे के आसपास अयोध्या में प्रवेश करेगी. सीएम योगी आदित्यनाथ और उनका मंत्रिमंडल भगवान राम का पूजन वंदन करेगा. उसके बाद श्रीराम का राज्यभिषेक भी होगा.

Comments

You may also like

योगी सरकार का प्रस्ताव, सरयू तट पर बनेगी प्रभु राम की विशाल प्रतिमा
Loading...